10 कपूर के फायदे – Camphor Benefits In Hindi

kapoor-camphorकपूर (Camphor) एक ऐसीऔषधि है जो प्राचीन काल से अपने अद्भुत स्वास्थ्य लाभ(Benefits) के लिए जानी जाती है।
कपूर एक सफेद, क्रिस्टलीय पदार्थ है जिसे अक्सर धार्मिक समारोहों के दौरान भारतीय घरों में उपयोग किया जाता है। हम बहुत कम जानते हैं कि इसे अपने कई स्वास्थ्य लाभ प्राप्त करने के लिए उपभोग किया जा सकता है। स्वस्थ रहने के लिए कपूर के विभिन्न स्वास्थ्य लाभों को जानने के लिए पढ़ें।

क्या कपूर खा सकते है? (Can We Eat Camphor)

कपूर दो प्रकार का होता है एक वो जो चेमिका लसे बनता है और धार्मिक कार्यों में और बाहरी इस्तेमाल के लिए उपयोग में अत है और दूसरा वो जो खाने के काम अत है । आम तोर पे मिलने वाला कपूर केमिकल से बना होता है और उसको खाया नहीं जा सकता । दूसरा वो जो प्राचीन कल से पेड़ की छाल से बनाया जाता है। यह प्राकर्तिक कपूर थोड़ा महंगा होता है और अनेक प्रकार की बिमारिओं को दूर करता है । आइये जानें कपूर के फायदे ।

कपूर के लाभ

1.नाक खोलने के लिए

कपूर सभी प्रकार के नक् खोलने वाली दवाइओं में डाला जाता है जैसे की वॉक्स वापोराव । यह नाक की कोशिकाओं को खोलके वायु का आना जाना आसान करता है और जुकाम में बहुत फायदेमंद होता है ।

2. सूजन भगाये

कैंपोर में अत्यधिक विरोधी भड़काऊ गुण होते हैं, जो इसे दर्द के  तेलों में एक अद्भुत घटक बनाते हैं। घाव पर कपूर तेल लगाने से इसे तेजी से ठीक करने और सूजन को कम करने में मदद मिल सकता है ।

4. रक्त परिसंचरण में वृद्धि करता है

कैंपर खाने से पूरे शरीर में रक्त परिसंचरण को उत्तेजित करने और सुधारने में प्रभावी ढंग से काम करता है। और, यह बेहतर रक्त परिसंचरण सुनिश्चित करता है कि दिल स्वस्थ रखता है और शरीर फिट रहता है।

5.हटाए जकड़न

कैंपोर एक प्रभावी एंटी-स्पस्मोस्मिक है, जिसका अर्थ है कि यह किसी भीजकड़न को तुरंत हटाता है । यह मास्कोशिकाओं को खोलकर आराम का एहसास दिलाता है जो दर्द से रहत दिलाता है

6. हार्मोन उत्तेजित करता है

कैंपोर एक कुशल हार्मोन उत्तेजक के रूप में काम करता है जो कामेच्छा के साथ-साथ सेक्स ड्राइव को बढ़ाने में मदद करता है। वे लोग जो इरेक्टाइल डिसफंक्शन से पीड़ित हैं वे बाहरी रूप से लगायें ल। यह नसों को उत्तेजित करेगा और क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में रक्त परिसंचरण की अनुमति देगा।केम्फर लिंग पे लगाने से सेक्स की अवधि भी बरती है ।

7.पाचन समस्याओं का इलाज करता है

जिन लोगों को गैस की समस्याएं होती हैं वे अक्सर कैंसर लेने के बाद राहत पा सकते हैं। यह पहली जगह गैस के गठन को रोकने से राहत लाता है। कैंपोर डायगियोआ या गैस्ट्रोएंटेरिटिस जैसी पाचन समस्याओं को रोकने या इलाज में भी मदद कर सकता है।

8. ऑस्टियोआर्थराइटिस की गंभीरता को कम करता है

ऑस्टियोआर्थराइटिस के लक्षणों की गंभीरता लगभग आधे से कम हो जाती है जब कोई त्वचा पर और जोड़ों पर कपूर लगाए ।

9.नकारात्मक शक्तिओं का नाश करता है

कपूर नियमित घर में जलने से घर में मौजूद नेगेटिव ऊर्जाओं का नाश होता है । इसी कारन धार्मिक स्थलों पे भी इसका इस्तेमाल होता है । यह घर पर किये हुए टोन टोटकों नो निष्फल करने की क्षमता रखता है ।

10 तंत्रिका विकारों का इलाज करता है

वर्षों से किए गए शोध से पता चलता है कि कैंसर तंत्रिका विकार, आवेग, मिर्गी और पेशी संकुचन के लिए एक प्रभावी घरेलू उपचार है। यह त्वचा को साफ रखने में भी बहुत अच्छा है। ऐसे परिस्थितियों से पीड़ित मरीजों को हमेशा खपत से पहले डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए क्योंकि इससे अधिक मात्रा में उत्पादक हो सकता है।

You might also like More from author

Leave A Reply

Your email address will not be published.

Translate »